यूनिसेफ इंडिया स्वैच्छिक योगदान पर क्यों निर्भर है?

Students involved in fundraising for UNICEF.

यूनिसेफ का भारत सरकार की साझेदारी के तहत भारत में जमीन स्तर पर काम करने का 70 से अधिक वर्षों का इतिहास रहा है, फिर भी बहुत से लोग इस बात से अनभिज्ञ हैं कि यूनिसेफ अपने कामों को जारी रखने के लिए पूरी तरह से विभिन्न व्यवसायों या लोगों ऐसा क्यों है वित्तीय बाजारों में काम करता है के योगदान पर निर्भर है। हाँ, यह बिल्कुल सच है। 1946 में विश्व स्तर पर और भारत में 1948 में स्थापित करने के दौरान यूनिसेफ को संयुक्त राष्ट्र की एकमात्र ऐसी एजेंसी घोषित किया गया था जिसे संयुक्त राष्ट्र सचिवालय से योगदान प्राप्त नहीं होता है। इसलिए यूनिसेफ लोगों के साथ-साथ निजी व सार्वजनिक क्षेत्र से मिलने वाली वित्तीय ऐसा क्यों है वित्तीय बाजारों में काम करता है सहायता पर निर्भर करता है। भारत में हम सभी क्षेत्रों के लोगों से मिलने वाले योगदान पर निर्भर हैं, और भारत में जुटाई गई पूरी राशि का इस्तेमाल केवल भारत के जरुरतमंद बच्चों की मदद करने हेतु किया जाता है।

यूनिसेफ इंडिया अभी ‘इंडिविजुअल गिविंग कैंपेन यानि व्यक्तिगत दान अभियान’ चला रहा है, जिसमें सड़कों, आवासीय क्षेत्रों, कार्यालयों, और शॉपिंग मॉल या बाजारों में जाकर लोगों से दान करने की अपील करना शामिल है। शायद आपने ऐसा क्यों है वित्तीय बाजारों में काम करता है भी हमारी टीम को ऐसा करते देखा होगा। हम फोन और सोशल मीडिया के ज़रिए भी लोगों तक पहुंच रहे हैं। ये सभी काम अधिकृत फंडरेजरों द्वारा किया जा रहा है, और ऐसा क्यों है वित्तीय बाजारों में काम करता है इसके लिए हर फंडरेजर को एक वैध आईडी कार्ड भी जारी किया गया है। अगर आपको ऐसा क्यों है वित्तीय बाजारों में काम करता है इस बात का शक हो कि यूनिसेफ के लिए फंडरेजर या व्यक्ति यूनिसेफ का नहीं है, तो आप उनका यूनिसेफ द्वारा जारी फंडरेजर आईडी कार्ड देख सकते हैं। आप नीचे दिए गए नंबरों के ज़रिए हमें अपनी किसी भी समस्या की रिपोर्ट भी कर सकते हैं।

अधिकृत अभियान के ज़रिए यूनिसेफ को किए गये सभी ऐसा क्यों है वित्तीय बाजारों में काम करता है दान क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, ऑनलाइन ट्रांसफर, या ऑफ़लाइन फॉर्म के माध्यम से लिंक हैं, जिससे हर महीने आपके खाते से पैसा ऑटो-डेबिट हो जाता है। ये लिंक help.unicef.org/in से शुरू होते हैं और हर अभियान हेतु किए गये हमारे दान को ट्रैक करने में मदद करने के लिए अभियान के आधार पर इनके आईपी एड्रेस अलग-अलग होते हैं।

यूनिसेफ और इसकी अधिकृत एजेंसियां नकद के रुप में दान नहीं लेती हैं। अगर आपसे नकद में दान करने का अनुरोध किया जा रहा है, तो कृपया भुगतान न करें, इसके बजाय, नीचे दी गई जानकारी के ज़रिए हमें इसकी सूचना दें।

बीते कुछ सालों से हम भारत में बच्चों से जुड़े अपने कार्यों का समर्थन करने हेतु लोगों से दान का अनुरोध कर रहे हैं। कोविड-19 और इस जैसी अन्य आपात स्थिति में यूनिसेफ इंडिया ने आपातकालीन आपूर्ति को बनाये रखने हेतु योगदान प्राप्त करने के लिए कई अभियान शुरु ऐसा क्यों है वित्तीय बाजारों में काम करता है किए हैं।

हम इस अवसर पर उन सभी लोगों को धन्यवाद देते हैं जो भारत में बच्चों के लिए यूनिसेफ इंडिया द्वारा किये जा रहे कामों का समर्थन कर रहे हैं और जिन्होंने योगदान किया है।

व्यक्तिगत दान या फंडरेजिंग से संबंधित किसी भी सवाल/शिकायत के लिए कृपया हमें [email protected] पर लिखें या टोल फ्री ऐसा क्यों है वित्तीय बाजारों में काम करता है नंबर - 1800-3000-5898 पर कॉल करें।

हमारा हेल्पडेस्क सोमवार से शुक्रवार सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक संचालित होता है।

अगर आप कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो इसके लिए हमारे 'अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न' देखें।

रेटिंग: 4.26
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 563