पलामू में केंद्रीय विद्यालय को मिली जमीन, लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया किराये के मकान में शुरू होगा पठन-पाठन

केंद्रीय विद्यालय संगठन ने सांसद विष्णु दयाल राम का अनुरोध स्वीकारते हुए भवन बनकर तैयार होने तक किराये के मकान में पठन-पाठन शुरू करने की स्वीकृति दे दी है। इसके साथ ही पलामू जिले में केंद्रीय.

पलामू में केंद्रीय विद्यालय को मिली जमीन, किराये के मकान में शुरू होगा पठन-पाठन

केंद्रीय विद्यालय संगठन ने सांसद विष्णु दयाल राम का अनुरोध स्वीकारते हुए भवन बनकर तैयार होने तक किराये के मकान में पठन-पाठन शुरू करने की स्वीकृति दे दी है। इसके साथ ही पलामू जिले में केंद्रीय विद्यालय का सपना साकार हो गया। पलामू प्रमंडल के गढ़वा व लातेहार जिले में पूर्व से केंद्रीय विद्यालय संचालित हैं परंतु पलामू में केंद्रीय लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया विद्यालय की स्थापना का प्रयास करीब दो दशक से जारी था जिसपर अब विराम लगता दिख रहा लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया है। पलामू में केंद्रीय विद्यालय का संचालन करने के लिए बतौर प्राचार्य निशांत कुमार चौबे को नियुक्त किया गया है। शुरुआत में कक्षा एक से पांचवी तक पढ़ाई होगी। मेदिनीनगर नगर निगम क्षेत्र के चैनपुर मुहल्ले में स्थित राजकीयकृत श्रीसद्गुरु प्रताप हरि +2 उच्च विद्यालय के भवन में प्लस-2 विद्यालय का संचालन किया जायेगा। शीघ्र ही लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया केंद्रीय विद्यालय में नामांकन के लिए प्रक्रिया शुरू लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया होगी। सांसद ने उपरोक्त कार्य के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया का आभार जताते हुए केंद्रीय विद्यालय संगठन के क्षेत्रीय कार्यालय के अधिकारी पी. बालासुब्रमण्यम लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया एवं प्रशासनिक पदाधिकारी शशिकांत शर्मा का धन्यवाद दिया है। 2017 में पलामू में केंद्रीय विद्यालय खोलने लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया को मिली थी स्वीकृति : सांसद वीडी राम ने बताया कि गढ़वा जिला में उनके कार्यकाल के पूर्व से केंद्रीय विद्यालय था परंतु पलामू जिला में केंद्रीय विद्यालय नहीं खुल सका था। शुरू से ही उनकी कोशिश थी कि पलामू जिला को भी केंद्रीय विद्यालय मिल जाए। इस संबंध में संबंधित पदाधिकारी सहित मुख्यमंत्री, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री से भी मिलकर वे लगातार पहल कर रहे थे। सौभाग्य से 2017 में देश भर में 50 नए केंद्रीय लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया विद्यालय खोलने के प्रस्ताव को केंद्र सरकार ने स्वीकृति प्रदान की। इन स्वीकृत केंद्रीय विद्यालयों में 13 में पठन-पाठन शुरू करने की स्वीकृति प्रदान की गयी परंतु पलामू में केंद्रीय विद्यालय को प्रारंभ करने के लिए बड़ा अड़चन जमीन का आ खड़ा हुआ। केंद्रीय विद्यालय के लिए भवन निर्माण के लिए भूमि का चयन नहीं हो पाने के कारण मामला लंबित था। झारखंड सरकार ने मेदिनीनगर सदर प्रखंड के पोखराहा खुर्द में पलामू मेडिकल कॉलेज के पास केंद्रीय विद्यालय परिसर निर्माण के लिए10 एकड़ भूमि लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया लीडिंग और लैगिंग संकेतक समझाया का चयन कर हस्तांतरित कर दी। इस जमीन पर एक वर्ष के भीतर केंद्रीय विद्यालय का भवन निर्माण कर विद्यालय को अपने कैंपस में शिफ्ट किया जायेगा।

रेटिंग: 4.51
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 242