इसका एक ताजा उदाहरण मार्च 2020 में स्टॉक मार्केट क्रैश था। महामारी ने एक चेन पैनिक रिएक्शन शुरू कर दिया, जिससे एक सामान्य Market Crash हुआ। सेंसेक्स 12% से अधिक गिर कर 3,934 अंक पर टूट गया।

Stock Market Crash Kya Hai?: कैसे और क्यों होता है शेयर मार्केट क्रैश? जानिए नुकसान से बचने के टिप्स

Stock Market Crash Kya Hai?: कैसे और क्यों होता है शेयर मार्केट क्रैश? जानिए नुकसान से बचने के टिप्स

Stock Market Crash: आपने अक्सर समाचारों में शेयर मार्केट क्रैश होने की खबर सुनी होगी। लेकिन क्या आप वास्तविकता में जानते है कि Stock Market Crash Kya Hai? (What is Stock Market Crash in Hindi) तो चलिए आपको समझाते है कि स्टॉक मार्केट क्रैश क्या है? और यह कैसे होता है?

Stock Market Crash in Hindi: कभी आपने सोचा है कि Stock Market Crash Kya Hai?वैसे स्टॉक मार्केट क्रैश का जिक्र निवेशकों को डराने के लिए काफी है, खासकर शौकिया या रिटायरमेंट के लिए रिटर्न पर भरोसा करने वालों के लिए यह सदमे जैसा होता है। दुर्भाग्य से स्टॉक मार्केट क्रैश (Stock Market Crash) आमतौर इतिहास की सबसे बड़ी शेयर बाजार दुर्घटना क्या थी पर बिना किसी चेतावनी के होता है। Stock Market Crash एक बड़े आर्थिक संकट, राष्ट्रीय या अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं या लंबे समय तक सट्टा बुलबुले के फटने का संकेत देते हैं। इस तरह की दुर्घटनाओं के बाद निवेशक अपनी मार्जिन कॉल को रोकने के लिए शेयरों को जल्दी से बेच देते है।

Share Market Crash:क्या बाजार 2008 की महामंदी की ओर बढ़ रहा?2022 के लिए अहम सलाह

Share Market Crash:क्या बाजार 2008 की महामंदी की ओर बढ़ रहा?2022 के लिए अहम सलाह

भारतीय शेयर बाजार (Share Market Crash) के इतिहास में कई बार मार्केट के क्रैश होने की खबरें मिल जाएंगी लेकिन 2008 में जो शेयर मार्केट में गिरावट हुई वो इतिहास में दर्ज हो गई. 2022 में शेयर मार्केट में बड़ी गिरावट देखने को मिल रही है. 2021 में जहां Sensex के 60 हजार के अंक को पार करने की इतिहास की सबसे बड़ी शेयर बाजार दुर्घटना क्या थी बात होती थी वो सेंसेक्स आज 52,000 के आसपास कारोबार कर रहा है. 2022 की ये कहानी 2008 में हुए मार्केट क्रैश की कहानी को याद दिलाती है.

चलिए आपको बताते हैं 2008 में शेयर मार्केट की क्या हालत थी.

2022 का मार्केट क्रैश 2008 की तुलना में कैसा है?

सेबी रजिस्टर्ड फाइनेंशियल एडवाइजर जितेंद्र सोलंकी ने क्विंट हिंदी से कहा कि, 2008 सबसे खराब वैश्विक आर्थिक संकटों में से एक था, जो कम आय वाले घर खरीदारों को उधार देने, ग्लोबल फाइनेंशियल इंस्टिट्यूशन द्वारा ज्यादा रिस्क लेने की वजह से पैदा हुआ था.

इस घटना ने दुनिया भर में कुछ बड़े फाइनेंशियल इंस्टिट्यूशन और इंटरनेशनल बैंक्स को तबाह किया. अब चूंकि इक्विटी बाजार इससे अलग-थलग नहीं हैं, इसलिए इस संकट ने दुनिया भर के बाजारों को को भी प्रभावित किया.

2022 में शेयर मार्केट

लंबे समय से शेयर मार्केट में इतिहास की सबसे बड़ी शेयर बाजार दुर्घटना क्या थी निवेश करने वाले अश्विन दसिल्वा ने क्विंट हिंदी को बताया कि, 2008 में निवेशकों के पोर्टफोलियों में 50% की गिरावट थी. तब निवेशकों ने इक्विटी बाजार से पैसा निकाल कर इतिहास की सबसे बड़ी शेयर बाजार दुर्घटना क्या थी म्यूचल फंड में डाला और अपने रिस्क को कम किया. अश्विन ने कहा कि अगर सरकार महंगाई को कंट्रोल कर लेगी तो इतिहास की सबसे बड़ी शेयर बाजार दुर्घटना क्या थी जरूर मार्केट में सुधार देखने को मिलेगा.

'Nifty'

वैश्विक बाजारों के कमजोर रुख और विदेशी निवेशकों की सतत निकासी के बीच सोमवार को सतर्कता भरे कारोबार में सेंसेक्स 51 अंक के नुकसान में रहा. वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी लगभग सपाट रुख के साथ बंद हुआ. कारोबारियों के मुताबिक, नवंबर के मुद्रास्फीति आंकड़ों से पहले कारोबारियों ने सतर्कता बरती. बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक सेंसेक्स 51.10 अंक यानी 0.08 प्रतिशत की गिरावट के साथ 62,130.57 अंक पर बंद हुआ. हालांकि, सेंसेक्स एक समय 505.52 अंक यानी 0.81 प्रतिशत तक लुढ़क गया था लेकिन बाद में इसमें सुधार आया.

शेयर बाजार में सोमवार की सुबह तेज गिरावट देखी गई. बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 443 और निफ्टी का निफ्टी 50 करीब 132 अंक नीचे गिर गए.

एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank) का मार्केट कैप (M-cap) 13,493.73 करोड़ रुपये के उछाल के साथ 9,09,600.11 करोड़ रुपये और अडानी एंटरप्राइजेज (Adani Enterprises) का 8,475.91 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 4,55,521.65 करोड़ रुपये हो गया.

Wonder of the Seas: पानी में उतरने को तैयार दुनिया का सबसे बड़ा क्रूज शिप, यहां मिलने वाली सुविधाएं जानकर चौंक जाएंगे आप

Wonder of the Seas

मेहमानों के स्वागत को तैयार है दुनिया का सबसे बड़ा क्रूज शिप

6,988 मेहमानों को करा सकता है यात्रा
यह 18-डेक क्रूज जहाज फ्रांस के सेंट-नज़ायर में Chantiers de l'Atlantique शिपयार्ड में बनाया गया था और इस शिप में 6,988 मेहमानों और 2,300 चालक दल के सदस्यों को ले जाने की क्षमता है।

wonder of the sea

रेटिंग: 4.39
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 146