नए निवेशक भी आसानी से स्टॉक मार्केट के बारे में सीख सकते हैं और निवेश कर पैसे कमा सकते हैं.

Closing Bell: शुरुआती नुकसान से उबरे Share Market, मामूली गिरावट के साथ हुए बंद

कमजोर वैश्विक संकेतों के बीच घरेलू शेयर बाजारों (Share Market) में मंगलवार को अधिकांश समय तक रही गिरावट की अंतिम क्षणों में हुई लिवाली की वजह से नुकसान की काफी हद तक भरपाई हो गई। इसके बावजूद दोनों प्रमुख सूचकांक नुकसान के साथ ही बंद हुए। विशेष रूप से रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) के शेयरों में लिवाली से बाजार अपने नुकसान की काफी हद तक भरपाई कर पाए।

BSE का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक सेंसेक्स (Sensex) कारोबार के अंत में 103.90 अंक यानी 0.17 फीसदी की गिरावट के साथ 61,702.29 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान एक समय यह 703.51 अंक तक लुढ़क गया था लेकिन निचले स्तर पर खरीदारी होने से इसने नुकसान की काफी हद तक भरपाई कर ली। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) के निफ्टी (Nifty) में भी 35.15 अंक यानी 0.19 फीसदी की गिरावट रही और यह 18,385.30 अंक पर बंद हुआ।

Top Gainers

टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, रिलायंस इंडस्ट्रीज, अल्ट्राटेक सीमेंट, इंडसइंड बैंक, एक्सिस बैंक और आईसीआईसीआई बैंक बढ़त में रहे।

Top Losers

सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में से टाटा मोटर्स, हिंदुस्तान यूनिलीवर, महिंद्रा एंड महिंद्रा, लार्सन एंड टुब्रो, भारती एयरटेल, मारुति सुजुकी, एनटीपीसी, टेक महिंद्रा, बजाज फाइनेंस और टाटा स्टील में गिरावट का रुख रहा।

International Indices

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की, चीन का शंघाई कम्पोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे। यूरोप के बाजार दोपहर के सत्र में गिरावट के साथ कारोबार कर रहे थे। सोमवार को अमेरिकी बाजारों में भी नुकसान रहा था। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.65 फीसदी चढ़कर 80.32 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

विदेशी संस्थागत निवेशकों ने भारतीय बाजारों से निकासी का सिलसिला जारी रखा है। शेयर बाजारों से मिले आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी निवेशकों ने सोमवार को 538.10 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे।

शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स

मैंने उसे समझाया की कही भी अगर ज्यादा लाभ की सम्भावना होती है तो हानि की भी उतनी ही सम्भावना होती है | शेयर मार्किट में बहुत से लोगो ने अगर रातो -रात लाखो रुपये कमाए है तो बहुत से लोगो ने रातो -रात लाखो रुपये गवाएं भी है | फिर मैंने उसे यह बताया की शेयर मार्किट में प्रवेश करने के पहले निवेशको को क्या क्या जानना चाहिए | साथ ही उसे नीचे दिए गए कुछ ऐसे टिप्स भी बताये जिसे अपनाकर वह शेयर बाजार में पैसा कमाने के उद्देश्य में सफल हो सकता है |

Investment Tips for Beginners: स्टॉक मार्केट में निवेश शेयर मार्केट के नुकसान कर बनना चाहते हैं अमीर? तो इन 6 बातों का जरूर रखें ध्यान

Investment Tips: आज के समय में हर किसी के हाथ में स्मार्टफोन और डिजिटल प्लेटफॉर्म हैं, जिसके चलते अब कोई भी आसानी से स्टॉक मार्केट में निवेश कर सकता है.

Investment Tips for Beginners: स्टॉक मार्केट में निवेश कर बनना चाहते हैं अमीर? तो इन 6 बातों का जरूर रखें ध्यान

नए निवेशक भी आसानी से स्टॉक मार्केट के बारे में सीख सकते हैं और निवेश कर पैसे कमा सकते हैं.

Investment Tips for Beginners: वे दिन गए जब केवल शेयर मार्केट के नुकसान फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स ही निवेश किया करते थे. आज के समय में हर किसी के हाथ में स्मार्टफोन और डिजिटल प्लेटफॉर्म हैं, जिसके चलते अब शेयर मार्केट के नुकसान कोई भी आसानी से स्टॉक मार्केट में निवेश कर सकता है. नए निवेशक भी आसानी से स्टॉक मार्केट के बारे में सीख सकते हैं और निवेश कर पैसे कमा सकते हैं. हालांकि निवेश का कोई शॉर्टकट नहीं है. अगर आप कुछ बेसिक नियमों को ध्यान में रखते हैं और बाजार को समझते हुए निवेश करते हैं तो अच्छा खासा रिटर्न जनरेट कर सकते हैं. शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव होता ही है, ऐसे में यह समझना जरूरी है कि शेयरों में निवेश पर आपको फायदा भी हो सकता है और नुकसान भी. बाजार की चाल हमेशा ऊपर की ओर नहीं होती है. इसलिए निवेश करते समय धैर्य रखना जरूरी है.

आप अपने फाइनेंशियल गोल्स को ध्यान में रखते हुए शेयर बाजार में लॉन्ग टर्म या शॉर्ट टर्म के लिए निवेश कर सकते हैं. यहां हमने बताया है कि आपको निवेश से जुड़े फैसले लेने से पहले किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है.

प्लानिंग के साथ करें निवेश

समझने वाली पहली बात यह है कि म्यूचुअल फंड के शेयर मार्केट के नुकसान विपरीत, शेयरों में सीधे निवेश करने से रिस्क ज्यादा होता है. निवेश करने से पहले कैपिटल अमाउंट की योजना बनाना और निर्धारित करना जरूरी है. जरूरी बात यह है कि पहले आपको अपनी जोखिम उठाने की क्षमता का पहचानना होगा और इसी आधार पर निवेश करना चाहिए. ‘हाई रिस्क, हाई रिटर्न’ फिलॉसफी को आंख मूंदकर फॉलो न करें और आपको अपने इन्वेस्टमेंट के लॉन्ग टर्म प्रभावों पर विचार करना चाहिए.

LIC की जबरदस्‍त रिटर्न देने वाली 3 स्‍कीम, 1 लाख का निवेश बन गया 18.50 लाख, SIP करने वाले भी बने अमीर

यह तय करते समय कि किन शेयरों में निवेश करना है, सभी ट्रेड में अपनी नुकसान उठा लेने की क्षमता को समझें. अगर बाजार में गिरावट आती है तो इससे आपको बायबैक और एग्जिट प्लान तैयार करने में मदद मिलेगी. इसके अलावा, अपने निवेश को डायवर्सिफाई करना भी जरूरी है. अगर आपको किसी स्टॉक में नुकसान हो भी जाता है तो डायवर्सिफिकेशन से संतुलन बना रहता है. अलग-अलग इक्विटी में निवेश करने से लंबी अवधि में अधिक से अधिक लाभ प्राप्त करने में भी मदद मिलती है.

बाजार को समझना है जरूरी

नए निवेशकों को यह समझना चाहिए कि शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव की भविष्यवाणी नहीं की जा सकती है. यहां तक कि अनुभवी निवेशक भी हमेशा बाजार के व्यवहार का सटीक अनुमान नहीं लगा सकते हैं. यदि एक दिन स्टॉक की कीमत बढ़ जाती है, तो ऐसा भी हो सकता है कि अगले दिन उसकी कीमत घट जाए. इसलिए, शेयर बाजार को प्रभावित करने वाले कारकों को समझना अहम है. अनुभवी निवेशक भी कई बार गलत साबित हो सकते हैं. छोटी अवधि में होने वाले नुकसान पर फोकस करने के बजाय लंबी अवधि के रिटर्न पर ध्यान दें.

लक्ष्य ऐसे बनाएं, जिन्हें हासिल किया जा सके

शौकिया निवेशक अक्सर फौरन हाई रिटर्न की उम्मीद करते हैं. उदाहरण के लिए, हर साल स्टॉक पर 100% से अधिक का रिटर्न कमाने की उम्मीद करना ठीक नहीं है. हालांकि, कुछ निवेश हाई रिटर्न दे सकते हैं. इसलिए आपको हमेशा वास्तविकता को समझते हुए निवेश करना चाहिए. फाइनेंशियल शेयर मार्केट के नुकसान गोल ऐसे होने चाहिए जिन्हें आप हासिल कर सकते हैं. इसके अलावा, उन स्कीम में निवेश से बचें जो कम समय में हाई शेयर मार्केट के नुकसान रिटर्न का वादा करती हैं. निवेश करने से पहले पूरी तरह से रिसर्च कर लें.

शुरुआत में लीवरेज्ड इंस्ट्रूमेंट्स से बचें

नए निवेशकों को कैश डिवीजन में इक्विटी में निवेश करना शुरू कर देना चाहिए और लीवरेज्ड फाइनेंस से बचना चाहिए. लीवरेज्ड निवेश एक ऐसी रणनीति है जिसके तहत पैसे उधार लेकर निवेश के मुनाफे को बढ़ाने का प्रयास किया जाता है. ये लाभ उधार ली गई पूंजी पर निवेश रिटर्न और ब्याज की लागत के बीच के अंतर से प्राप्त होते हैं. इसमें प्रॉफिट की संभावना तो बढ़ जाती है, लेकिन नुकसान की संभावना भी बढ़ जाती है.

जल्दबाजी में फैसले लेने से बचें

फाइनेंशियल स्टेबिलिटी बनाए रखने के लिए चीजों को सरल रखना चाहिए. अपने एनालिसिस को जितना हो सके सरल रखें. जैसा कि पहले हमने बताया है कि शेयर बाजार में उतार-चढ़ाव होता ही है. हालांकि, आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप कभी भी बाजार के उतार-चढ़ाव को देखकर जल्दबाज़ी में और फौरन फैसले न लें. स्टॉक के प्रदर्शन से घबराने के बजाय, आपको एक व्यापक रणनीति बनानी चाहिए और उस पर टिके रहना चाहिए.

नए निवेशक बनाएं रणनीति

शेयर बाजार में निवेश पर काफी फायदा हो सकता है. हालांकि, आपको कुछ ऐसे नुकसानों से बचना चाहिए जिनका सामना ज्यादातर नए निवेशक पहली बार निवेश करते समय करते हैं. नए लोगों को निवेश शेयर मार्केट के नुकसान के लिए एक रणनीति तैयार करनी चाहिए. यह रणनीति ऐसी होनी चाहिए जिसके तहत बाजार की स्थितियों की परवाह किए बिना अच्छे और बुरे शेयर मार्केट के नुकसान दोनों समय में उस पर कायम रहा जा सके.

(By Anish Singh Thakur. लेखक बूमिंग बुल्स एकेडमी के CEO हैं. यहां व्यक्त विचार लेखक के हैं. Financialexpress.com इसकी जिम्मेदारी नहीं लेता है. कृपया कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले अपने वित्तीय सलाहकार से परामर्श करें.)

Share शेयर मार्केट के नुकसान Market Today, 15 Dec 2022: US के कदम के बाद निवेशकों को हुआ भारी नुकसान! सेंसेक्स-निफ्टी धड़ाम

Share Market News Today, 15 Dec 2022: हफ्ते के चौथे कारोबारी दिन बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स पर लिस्टटेड कंपनियों का मार्केट कैप 2,88,12,720.83 करोड़ रुपये हो गया।

Updated Dec 15, 2022 | 03:58 PM IST

क्या मेस्सी भी इतिहास में पोस्ट-ग्रेजुएट थे? इतिहास वाले RBI गवर्नर के तंज पर शक्तिकांत दास ने दिया जवाब

share market

Share Market Today: US के कदम के बाद निवेशकों को हुआ भारी नुकसान!

Share Market News Today (आज का शेयर बाजार), 15 December 2022: ब्याज दरों पर अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की ओर से उठाए गए कदमों के बाद भारतीय शेयर बाजार में जोरदार गिरावट दर्ज हुई है। गुरुवार को बीएसई का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 800 अंकों से भी ज्यादा फिसल गया। इसके साथ ही एनएसई निफ्टी में भी कमी आई। दिनभर के उतार- चढ़ाव के बाद सेंसेक्स 878.88 अंक (1.40 फीसदी) फिसलकर 61,799.शेयर मार्केट के नुकसान 03 के स्तर पर बंद हुआ। इसी तरह निफ्टी 245.40 अंक यानी 1.32 फीसदी गिरकर 18,414.90 पर बंद हुआ।

गुरुवार को सभी सेक्टर्स लाल निशान पर बंद हुए। सबसे ज्यादा गिरावट निफ्टी आईटी और मीडिया में आई। ये दो फीसदी से ज्यादा लुढ़के। बैंक, फाइनेंस सर्विस, मेटल, पीएसयू बैंक, प्राइवेट बैंक और रियल्टी में एक फीसदी से ज्यादा की तेजी आई। ऑटो, एफएमसीजी और फार्मा भी लाल निशान पर बंद हुए।

प्रमुख कंपनियों के शेयरों की बात करें, तो आज BSE पर दिग्गज शेयरों में सिर्फ एनटीपीसी और सन फार्मा के शेयर हरे निशान पर बंद हुए। इसके अलावा एम एंड एम, एक्सिस बैंक, कोटक बैंक, बजाज फाइनेंस, भारती एयरटेल, एशियन पेंट्स, मारुति, हिंदुस्तान यूनिलीव, डॉक्टर रेड्डी, इंडसइंड बैंक, विप्रो, बजाज फिनसर्व, अल्ट्राटेक सीमेंट, एचसीएल टेक, पावर ग्रिड, आईसीआईसीआई बैंक, रिलायंस, एसबीआई, नेस्ले इंडिया, टीसीएस, टाटा स्टील, एचडीएफसी बैंक, आईटीसी, एचडीएफसी, टाइटन, इंफोसिस और टेक महिंद्रा के शेयरों में गिरावट आई।

उल्लेखनीय है कि अमेरिका के केंद्रीय बैंक ने इस साल 7वीं बार ब्याज दरें बढ़ाई हैं। अमेरिकी सेंट्रल बैंक ने इसमें 50 बेसिस प्वाइंट यानी 0.50 फीसदी की बढ़ोतरी की है। इसके बाद अब ब्याज दरें 4.25 फीसदी और 4.5 फीसदी के बीच हो गई हैं।

देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | बिजनेस (business News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल

शेयर बाजार में नुकसान से बचने के 10 तरीके

शेयर बाजार में नुकसान से बचने के 10 तरीके


लाभ और हानि शेयर बाजार के दो पहलू हैं शेयर बाजार में किसी को फायदा तो किसी को नुकसान होना तय है समय-समय पर निवेशकों को नुकसान भी उठाना पड़ता है किंतु यदि शेयर मार्केट में कुछ सावधानियां बरती जाएं तो होने वाले नुकसान से बचा जा सकता है.

शेयर मार्केट में नुकसान से बचने के लिए टिप्स और तौर तरीके इंटरनेट पर आसानी से मिल जाएंगे यदि आपको शेयर बाजार में अनुभव और जानकारी नहीं है तो यह तौर तरीके और टिप्स किसी काम के नहीं हैं .

यदि आपको शेयर बाजार में होने वाले नुकसान से बचना है तो आपको शेयर मार्केट के बारे में जानकारी रखनी होगी बाजार के लिए आपको समय देना होगा

उदाहरण के तौर पर यदि आप मल्टी सेक्टर में निवेश करेंगे तो एक सेक्टर में अचानक से होने वाले उतार-चढ़ाव से होने वाले नुकसान की भरपाई दूसरे सेक्टर से की जा सकती है

जैसे कि आपने अपनी पूंजी का निवेश बैंकिंग सेक्टर फार्मा सेक्टर और म्यूचुअल फंड में किया है यदि आज बैंकिंग सेक्टर में भारी गिरावट आई तो आपको नुकसान हो जाएगा किंतु आपने फार्मा सेक्टर के शेयरों पर भी निवेश किया है और यदि फार्मा सेक्टर के शेयरों में तेजी आई तो बैंकिंग सेक्टर में हुए नुकसान की भरपाई फार्मा सेक्टर में से हो सकती है

शेयर बाजार में नुकसान से बचने के 10 तरीके
stock market loss

अपनी जिंदगी पैसे कौन नहीं कमाना चाहता और शेयर बाजार पैसे कमाने का एक अच्छा जरिया है नए निवेशक शेयर बाजार में बिना कुछ सीखे कदम रख देते हैं और इसी वज़ह से अधिकांश निवेशको को नुकसान उठाना पड़ता हैं नए निवेशक शेयर बाजार में राकेश झुनझुनवाला जी की स्टोरी पढ़ कर आते हैं और मार्केट में नुकसान के कारण झुनझुना लेकर मार्केट से वापस निकल जाते हैं असल में नए लोगों को शेयर बाजार बाहर से जितना सरल दिखता है उतना है नहीं अधिकांश नए लोग शेयर बाजार को बहुत हल्के में लेते हैं और वह यह सोचते हैं कि वह कम समय में बहुत अच्छी कमाई कर लेंगे लेकिन यह सब इतना आसान नहीं है

शेयर बाजार में नुकसान से बचने के 10 तरीके
इंट्राडे ट्रेडिंग में नुकसान

हो सके तो नए निवेशक इंट्राडे ट्रेडिंग करने से बचें लेकिन अधिकांश लोग शेयर बाजार में कदम रखते ही इंट्राडे ट्रेडिंग करने में रुचि रखते हैं जबकि इंट्राडे ट्रेडिंग करने से पहले आपको बाजार की बहुत अच्छी समझ बाजार की चाल में रिस्क मैनेजमेंट रिस्क रिवाड रेशियो व टारगेट एंड स्टॉप लॉस थ्योरी और भी अन्य जानकारियों को जानना बहुत जरूरी है

अक्सर हम यूट्यूब पर या अन्य सोशल साइटों पर देखते हैं कि कई ऐसे ट्रेडर हैं जो इंट्राडे ट्रेडिंग से रोजाना लाखों रुपए कमा रहे हैं वही देख कर हमारे अंदर भी मोटिवेशन के साथ जोश आ जाता है और हम बाजार में उतर पड़ते हैं लेकिन हमें यह भी जानना बहुत जरूरी है जो लोग इंट्राडे ट्रेडिंग से आज लाखों करोड़ों रुपए रोजाना कमा रहे हैं उनके पीछे कई सालों की मेहनत लगी होती है जिस किसी ट्रेडर को हम फॉलो करते हैं हम सिर्फ उसका प्रजेंट देखते हैं जब वह सक्सेसफुल हो चुका है बाकी हमें उसका पास्ट भी देखना चाहिए जब वह स्ट्रगल कर रहा होता है इससे आपको ट्रेडर की लाइफ से जुड़े संघर्षों की भी अनुभूत होगी

शेयर बाजार में लालच भी नुकसान का मुख्य कारण है कई बार देखा गया है कि नए ट्रेडर अपने मुनाफे वाली ट्रेड को शेयर मार्केट के नुकसान भी नुकसान में बुक करते हैं इसका मुख्य कारण है लालच हमें पता होता है कि हमारा लक्ष्य पूरा हो गया फिर भी हम और मुनाफे के लिए उस ट्रेड में बने रहते हैं यही हमारी बहुत बड़ी गलती होती है मेरा अनुभव कहता है नए लोग बाजार में बराबर स्टॉपलॉस और टारगेट के साथ काम करें अगर आपको प्रॉफिट वाली ट्रेड में बने रहना है तो ट्रेलिंग स्टॉप लॉस का प्रयोग करें

रेटिंग: 4.74
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 863