अकाउंट खोलने के लिए शीर्ष बैंकों में यह सेवा उपलब्ध है जैसे आईसीआईसी बैंक एसबीआई बैंक पंजाब नेशनल बैंक एचडीएफसी बैंक आदि डीमेट अकाउंट की सुविधा प्रदान करती हैं और प्राइवेट में बहुत सारी कंपनियां डीमेट अकाउंट की सुविधा प्रदान करते हैं सेबी रजिस्टर्ड ब्रोकरेज कंपनियां डीमैट अकाउंट ऑनलाइन खुलती है इसमें आपको कहीं भी जाने की जरूरत नहीं रहती है डीमैट अकाउंट खोलने वाली कंपनियां जरोदा एंजल ब्रोकिंग सेमको 5paisa आदि कंपनियां डीमेट अकाउंट खोलती है
यह लेख आप www.highreturn.in पर पढ़ रहे हैं

डीमैट अकाउंट क्या है डीमैट अकाउंट कैसे खोलें

डीमैट खाता क्या है ? कहाँ और कैसे खोलें | Demat Account क्या है – यहाँ देखे

आज, इस ऑनलाइन इंटरनेट की दुनिया में पैसा कमाना अब और अधिक सरल हो गया है, खासकर, कोरोनावायरस लॉकडाउन के बाद, हम ऑफ़लाइन से ऑनलाइन इंटरनेट की दुनिया में स्विच हो गए हैं। ऑनलाइन पैसे कमाने के कई तरीके हैं, लेकिन इन सबके बीच शेयर बाजार अब सबके बीच मशहूर हो गया है |

एक सरकारी रिपोर्ट से पता चलता है कि, 2020 में, दस लाख से अधिक नए खुदरा निवेशक भारत में उभरे हैं और एक नया डीमैट खाता खोला है। इससे पता चलता है कि लोग शेयर बाजार की ओर कितना आकर्षित होते हैं, खासकर कोरोनावायरस लॉकडाउन सत्र में।

जैसा कि अब हम समझते हैं कि शेयर बाजार ही एकमात्र तरीका है जिसके माध्यम से आप उच्चतम रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं। आप धैर्य के साथ लंबी अवधि के लिए मौलिक रूप से विश्लेषण किए गए शेयरों में निवेश करके भी बहुत पैसा कमा सकते हैं।

डीमैट खाता क्या है ?

डीमैट खाते को “डीमैटरियलाइज अकाउंट” के रूप में भी जाना जाता है। डीमैट खाता एक बैंक खाते की तरह है जहां हम किसी भी सूचीबद्ध कंपनी के शेयर या स्टॉक को डिजिटल रूप में स्टोर कर सकते हैं।

आप किसी भी कंपनी के शेयरों को अपने डीमैट खाते में आसानी से डिजिटल रूप में जमा कर सकते हैं और बैंक खाते की तरह अपने खाते की शेष राशि भी देख सकते हैं। शेयर बाजार में निवेश करने से पहले किसी भी व्यक्ति को एक नया ऑनलाइन डीमैट खाता कैसे खोलें डीमैट खाता खोलना होगा।

डीमैट खाता कहाँ खोलें ? [ स्टॉक ब्रोकर क्या है ]

अब, आप डीमैट खाते के बारे में पूरी तरह से अवगत हैं। तो, अब आपको यह जानना होगा कि डीमैट खाता कहां खोलना है। यह समझने से पहले कि आपको यह समझना होगा कि नया डीमैट खाता कहां खोलना है।

आमतौर पर स्टॉक ब्रोकर किसी भी व्यक्ति का डीमैट खाता खोलते हैं। भारत में कई स्टॉक ब्रोकर हैं।

स्टॉक ब्रोकर्स क्या है ?

स्टॉक ब्रोकर स्टॉक मार्केट और प्रत्येक व्यक्तिगत निवेशक के बीच का बिचौलिया होता है। स्टॉक ब्रोकर निवेशक द्वारा कंपनी के शेयर के सभी खरीद और बिक्री ऑर्डर के लिए भी जिम्मेदार होते हैं।

भारत में कई ऑनलाइन डीमैट खाता कैसे खोलें स्टॉक ब्रोकर हैं। भारतीय शेयर बाजार में मूल रूप से दो तरह के स्टॉक ब्रोकर होते हैं।

  • पूर्णकालिक ब्रोकर।
  • डिस्काउंट ब्रोकर।

फुल-टाइम ब्रोकर (Full Time Broker) :- फुल टाइम ब्रोकर वे ब्रोकर होते हैं जो निवेशक को विभिन्न और विशेष सेवा प्रदान करते हैं और उच्च शुल्क भी लेते हैं। कुछ सुविधाएं हैं –

  • कॉलिंग ट्रेड।
  • निवेश संबंधी सलाह।
  • 24X7 कॉल सपोर्ट ।
  • समय पर नवीनतम अपडेट।
  • विशेष ध्यान।

कुछ प्रसिद्ध भारतीय पूर्णकालिक ब्रोकर HDFC Securities, ICICI Securities, Kotak Securities Angel Broker and SBI Securities.

डीमैट अकाउंट क्या होता है? शेयरों की खरीद और बिक्री कैसे की जाती है?

डीमैट अकाउंट क्या होता है? शेयरों की खरीद और बिक्री कैसे की जाती है?

शेयर मार्केट में निवेश शुरू करने के लिए आपको तीन अकाउंट (खातों) की जरूरत होती है. ये तीन अकाउंट हैं डीमैट अकाउंट, ट्रेडिंग अकाउंट और बैंक अकाउंट. हर अकाउंट का अपना एक अलग काम होता है, लेकिन ट्रांजैक्शन (लेन-देन) को पूरा करने के लिए तीनों एक-दूसरे पर निर्भर होते हैं. शेयर मार्केट में ट्रेडिंग के लिए ये तीन अकाउंट होने चाहिए.

डीमैट अकाउंट क्या है?

डीमैट अकाउंट एक बैंक अकाउंट के समान है. जैसे एक सेविंग अकाउंट (बचत खाता) पैसे को चोरी होने और किसी भी गड़बड़ी से बचाता है, वैसे ही एक डीमैट अकाउंट निवेशकों के लिए भी यही काम करता है. डीमैट अकाउंट या डीमैटरियलाइज्ड अकाउंट इलेक्ट्रॉनिक रूप में शेयरों और सिक्योरिटीज को रखने की सुविधा देता है. ये अकाउंट फिजिकल शेयरों को डीमैट रूप में स्टोर (संग्रहित) करते हैं. फिजिकल शेयरों को इलेक्ट्रॉनिक रूप में परिवर्तित करने की प्रक्रिया (प्रोसेस) को डिमैटेरियलाइजेशन कहा जाता है. जब भी ट्रेडिंग की जाती है तो इन शेयरों को डीमैट अकाउंट में क्रेडिट या डेबिट किया जाता है.

डीमैट अकाउंट क्या है डीमैट अकाउंट कैसे खोलें

S L kashyap अप्रैल 14, 2020 2

डीमैट अकाउंट क्या है

डीमैट अकाउंट क्या है डीमैट अकाउंट की जानकारी हिंदी में डिमैट अकाउंट कैसे खोलें शेयर बाजार में डिमैट अकाउंट का क्या उपयोग है ट्रेडिंग अकाउंट क्या है


शेयर बाजार में कोई भी व्यक्ति बिना डीमैट अकाउंट के शेयर खरीद और बेंच नहीं सकता है डीमेट डीमेट अकाउंट आपके बैंक अकाउंट जैसा ही होता है बैंक अकाउंट में आप रुपए का

लेना-देना करते हैं उसी प्रकार डीमेट अकाउंट में आपके shares को डेबिट और क्रेडिट किया जाता है डीमैट अकाउंट आपके द्वारा खरीदे गए ऑनलाइन शेयर क्रेडिट एंड डेबिट किए जाते हैं

DEMAT अकाउंट कहाँ और कैसे खोले

Zerodha

अगर आपने ध्यान दिया होगा, तो आपको पता होगा कि, PAN CARD भी इन्ही दोनों संस्थाओ में प्रमुख रूप से NSDL द्वारा बनाया गया होता है, और हो सकता है आपने पैन कार्ड के सम्बन्ध में NSDL का नाम पहले जरुर सुना होगा,

खैर बता दे कि जिस तरह PAN CARD बनाने के लिए आप किसी एजेंट की मदद से ऑनलाइन एप्लीकेशन देते है, और कुछ दिनों में आपका पैन कार्ड बन जाता है,

वैसे ही आपको DEMAT अकाउंट खोलने के लिए आपको डायरेक्टली NSDL और CDSL के पास जाने की जरुरत नहीं , और आप DEMAT अकाउंट खोलने का एप्लीकेशन किसी भी प्रमुख बैंक और स्टॉक ब्रोकर के पास कर सकते है,

और अगर बात की जाये स्टॉक ब्रोकर की तो सभी प्रमुख स्टॉक ब्रोकर आपको TRADING ACCOUNT के साथ साथ DEMAT ACCOUNT खोलने की भी सुविधा देते है,

DEMAT ACCOUNT OPEN करने के लिए बैंक की लिस्ट

और प्रमुख स्टॉक ब्रोकर जहा DEMAT अकाउंट खोले जा सके है,

ये लिस्ट बहुत छोटी है , क्योकि आज कल सभी बैंक DEMAT और TRADING अकाउंट खोलने की सुविधा दे रहे है,

आप अपनी सुविधानुसार अपने नजदीकी बैंक या स्टॉक ब्रोकर के पास जाकर इसके बारे में पता कर सकते है,

यहाँ तक आप समझ गए होंगे कि DEMAT अकाउंट खोलने के लिए आपको ऐसे बैंक या फिर ऐसे स्टॉक ब्रोकर के पास जाना है, जो DEMATअकाउंट खोलने की सुविधा देता है,

और वहा आपको अकाउंट ओपन करने का एप्लीकेशन और एप्लीकेशन करने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट देने है,

अब आइये बात करते है –

DEMAT ACCOUNT खोलने के लिए आवश्यक DOCUMENTS

आपने अपना बैंक अकाउंट खोलने के लिए बैंक अकाउंट ओपनिंग फॉर्म के साथ साथ जो भी डॉक्यूमेंट बैंक को दिया होगा, वही डॉक्यूमेंट आपको DEMAT अकाउंट के लिए भी देना होता है,

DEMAT अकाउंट ओपन करने के लिए डॉक्यूमेंट की लिस्ट

पैन कार्ड और अब आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया गया है,

इसके साथ साथ आप अपने Address को कन्फर्म करने लिए आप अन्य डाक्यूमेंट्स ऑनलाइन डीमैट खाता कैसे खोलें भी दे सकते है –

  • एम्प्लोयी आईडी
  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • वोटर आईडी
  • इलेक्ट्रिसिटी बिल/ लैंडलाइन बिल
  • पासपोर्ट
  • राशन कार्ड
  • आईटी रिटर्न्स
  • बैंक स्टेटमेंट

इस तरह आपको सभी डॉक्यूमेंट देने की जरुरत नहीं है, Demat अकाउंट के लिए आपसे पैन कार्ड और आधार कार्ड अनिवार्य रूप से माँगा जायेगा, और साथ में अगर जरुरत पड़ती तो आपको अन्य डाक्यूमेंट्स में से कुछ देने होंगे, सभी नहीं.

Demat Account Ke Fayde

पिछले कुछ सालो में तकनीकी प्रगति के कारण डीमैट अकाउंट रखने के बहुत सारे फायदे प्राप्त किए हैं जो निम्न हैं –

  • कारोबारी अपनी सुविधा के मुताबिक लेन-देन कर सकते हैं, जिससे यह आसान और समय की बचत करने वाला बन सकता है।
  • लेन-देन रजिस्टर करने के लिए कोई कठिन कागजी कार्रवाई जरूरी नहीं है।
  • शेयर प्रमाण पत्र, बांड, आदि की भौतिक प्रतियों (physical copies) की चोरी, देरी, या धोखाधड़ी का कोई खतरा नहीं है क्योंकि copies को इलेक्ट्रॉनिक रूप में संग्रहीत किया जाता है।
  • ऋण के साथ–साथ इक्विटी इंस्ट्रूमेंट्स रखने के लिए आपके पास एक एकीकृत मंच (integrated platform) है।
  • बोनस, विभाजन, विलय, समेकन आदि के मामले में automatic क्रेडिट डीमैट खाते में पंजीकृत जाते हैं।
  • कई संचार जरूरतों को खत्म करता है प्रत्येक हितधारक (stakeholder) के लिए कंपनी, कारोबारी, इन्वेस्टर से संपर्क करने की जरूरत को हटाने के लिए लेनदेन के बारे में इलेक्ट्रॉनिक अलर्ट के जरिये से सूचित किया जाता है।
  • पते में बदलाव को डिपॉजिटरी प्रतिभागी (Participant) के जरिये से इन्वेस्टर द्वारा इन्वेस्ट की गई हर कंपनी के साथ अपडेट किया जाता है।
  • पहले के विपरीत जब शेयरों का लेन-देन सिर्फ (एक साथ कई) में किया जाता था अब एक शेयर को खरीदा/बेचा जा सकता है ।
  • स्टाम्प ड्यूटी लागतों के हटने से, जो अन्यथा पहले प्रतिभूतियों (securities) के भौतिक अभिलेखों (physical records) से जुड़े थे, कारोबार की लागत में जरूर कमी हुई है।

Demat Account Ke Nuksan

डीमैट अकाउंट कुछ नुक्सान निम्न हैं –

  • आपको तकनीकी जानकारी होनी चहिये।
  • पोर्टफोलियो का लगातार बदलते रहना।
  • Account freezing problem
  • Annual maintenance charge
  • Regular supervision of your demat account
  • High frequency of trading

FAQs on Demat Account Kya Hota Hai Hindi Mein Bataen

Q. डीमैट अकाउंट से क्या होता है?

Demat Account लोगों के द्वारा शेयरों को खरीदने या बेचने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। जिस तरह लोग अपना पैसा बैंक अकाउंट में रखते है ठीक उसी प्रकार लोग डीमैट खाता में अपने शेयर रखते हैं।

रेटिंग: 4.83
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 434