Xplained: NFT से कमाई की जान लें पूरी ABCD, बिटकॉइन की तरह ही इंवेस्टमेंट कर निवेशक बन सकते हैं मालामाल!

NFT Explainer: डिजिटलाइजेशन के इस समय में आपको NFT के बारे में जानना जरूरी है. यह सिर्फ एक टोकन नहीं बल्कि आपके लिए कमाई और इंवेस्टमेंट का अच्छा ऑप्शन भी हो सकता है.

By: abp news | Updated at : 19 Oct 2021 12:45 PM (IST)

इंडियन करेंसी (फाइल फोटो)

NFT Explainer: पिछले कई दिनों से NFT काफी सुनाई दे रहा है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर ये एनएफटी क्या है और NFT इस्तेमाल कैसे करें in 2023 किस तरह से यह काम करता है. डिजिटलाइजेशन के इस समय में आपको NFT के बारे में जानना जरूरी है. यह सिर्फ एक टोकन नहीं बल्कि आपके लिए कमाई और इंवेस्टमेंट का अच्छा ऑप्शन भी हो सकता है. इसका पूरा नाम नॉन-फंजिबल टोकन (non-fungible token -NFT) है. इसको कुछ दिन पहले भारत में अमिताभ बच्चन ने लॉन्च किया था. इसके बाद सलमान खान ने भी भारत में इसी तरह का एक टोकन bollycoin के बारे में चर्चा की. तो आज हम आपको नॉन-फंजिबल टोकन की पूरी ABCD बताते हैं कि आखिर ये क्या है और किस तरह से काम करता है और इसकी खासियत क्या है-

क्या होता है NFT?
नॉन-फंजिबल टोकन को क्रिप्टोग्राफिक टोकन भी कहा जा सकता है. बता दें अगर कोई भी ऐसी तकनीकी आर्ट, जिसके बारे में यह दावा किया जाता है कि वह यूनिक है और उसका मालिकाना हक किसी खास व्यक्ति के पार है तो हम उसे NFT कह सकते हैं. खासबात यह है कि मार्केट में आजकल निवेशक इस तरह की चीजों को लेकर काफी आकर्षित हैं और ऑनलाइन इसमें निवेश किया जा सकता है. NFT यूनिक टोकन्स होते हैं जोकि मार्केट में वैल्यु को जनरेट करते हैं.

NFT किस तरह से काम करता है?
बता दें एनएफटी का इस्तेमाल डिजिटल असेट्स या सामान के लिए किया जाता है. NFT किसी भी तरह के स्टैंडर्ड और ट्रेडिशनल एक्सचेंजेज में ट्रेड नहीं करता है. आप सिर्फ डिजिटल मार्केट प्लेस में इसके खरीद या फिर बेच सकते हैं.

गेमिंग के जरिए भी कर सकते हैं कमाई
डिजिटल गेमिंग की बात करें तो इस सेगमेंट में इसको काफी अहम माना जाता है. इसकी मदद से लोग पैसा भी कमा रहे हैं. उदाहरण के जरिए अगर बात करें तो जैसे अगर आपके पास कोई वर्चुअल रेस ट्रैक है तो उसके बदले में दूसरे प्लेयर्स को इस्तेमाल करने के लिए पैसे देने होंगे.

भारत के लोगों के लिए हैं नया कॉन्सेप्ट
मार्केट एक्सपर्ट की मानें तो इंडिया के लोगों के लिए एनएफटी एकदम नया कॉन्सेप्ट है. यहां पर लोगों को इसको समझने और इसका ट्रेंड पकड़ने में समय लग सकता है. इसके अलावा भारत में इसको लॉन्च करने के लिए क्रिप्टो एक्सचेंज इंडिया की पहली कंपनी बनने को तैयार है, जिसे Dazzle नाम दिया गया है.

बिटकॉइन की तरह करता है काम
NFT बिटकॉइन के जैसा ही टोकन है, लेकिन इसमें डिजिटल आर्ट, म्यूजिक, फिल्म, गेम्स को बढ़ावा दिया गया है, जिस तरह से बिटकॉइन को भेजते समय लेजर एंट्री की जाती है. ठीक उसी तरह एनएफटी के लिए भी इसमें एंट्री की जा सकती है.

अच्छे मुनाफे के लिए करना पड़ सकता है इंतजार
अगर निवेश की बात की जाए तो निवेशकों को NFT पर मुनाफा कमाने के लिए लंबे समय तक का इंतजार करना पड़ सकता है. इसके साथ ही ऐसा भी हो सकता है कि मार्केट में उस खास सिक्के की चाहत बहुत ही ज्यादा हो, लेकिन बेचने वाला व्यक्ति उसकी बिक्री के लिए तैयार न हो. इसके अलावा यह भी हो सकता है कि किसी दूसरे देश के स्मृति चिन्ह या फिर किसी खास म्यूजिम के सिक्के की वैल्यु सामने वाले के लिए बहुत ज्यादा हो वहीं, दूसरी तरफ किसी और व्यक्ति की नजर में उसकी कोई खास वैल्यु न हो. तो इस तरह से इसके निवेश पर अच्छा पैसा कमाने के लिए आपको थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है.

यह भी पढ़ें:

Published at : 19 Oct 2021 12:33 PM (IST) Tags: Amitabh Bachchan digital currency Xplained NFT Explainer non-fungible token NFT हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: Business News in Hindi

India At 2047: भारत में है NFT का शानदार भविष्य, ऐसे समझें क्या है NFT, देखें कैसे करता है काम

India At 2047: Non-Fungible Token में काफी लोग रुचि ले रहे है. वर्तमान समय में, भारत में प्रमुख बाजार और सामाजिक नेटवर्क एनएफटी के लिए काम कर रहे हैं.

By: ABP Live | Updated at : 10 Aug 2022 07:00 PM (IST)

NFT Future in India : आज कल लोगों में बहुत जल्दी पैसा कमाने की होड़ लगी हुई है, ये लोग बैंक के इन्वेस्टमेंट से हटकर बहुत आगे की सोच रहे है. कुछ लोग डिजिटल प्लेटफार्म के जरिये करोड़ो रुपए कमा रहे है. और गवा भी रहे है. डिजिटल पैसा कमाने पर गलत फेहमी का माहौल ज्यादा बना हुआ है. लोगों को लगता है कि बैंक से जुड़े कई कामों को करने में उन्हें रिस्क लेनी पड़ती है, और उनका पैसा भी डूबने के चांस होते है. अब डिजिटली पैसा कमाने के लिए Non-Fungible Token (NFT) का इस्तेमाल किया जा रहा है. NFT को लेकर भारत में कई बाजार और बड़ी हस्तिया आगे आ रही हैं.

क्या होता है NFT
NFT का पूरा नाम है Non-Fungible Token. जिसका अर्थ है कि इसे न तो बदला जा सकता है और न ही इंटरचेंज किया जा सकता है, यह एक NFT इस्तेमाल कैसे करें in 2023 प्रकार की यूनिक प्रॉपर्टीज हैं. आप इसे डिजिटल एसेट-एनएफटी (Digital Asset-NFT) एक डिजिटल (Digital) संपत्ति भी कह सकते है, जो कला (Art), संगीत (Music) और गेम (Games) जैसे इंटरनेट Collectible वस्तुओं का प्रतिनिधित्व करती है, जो ब्लॉकचेन तकनीक द्वारा बनाए एक ऑथेंटिक सर्टिफिकेट के साथ क्रिप्टो क्यूरेंसी जैसा है.

क्या है Fungibility
Fungibility एक एसेट है जिसे उसी प्रकार की अन्य एसेट के साथ इंटरचेंज किया जा सकता है. आप ऐसे समझ सकते है कि यदि आप मुझे 1 दिन के लिए 50 रु उधार देते हैं और मैं अगले दिन आपको वह 50 रु लौटा देता हूँ. आप उसी 50 रू के नोट की उम्मीद नहीं करने जा रहे हैं जो आपने मुझे दिया था. मैं आपको अगले दिन कोई भी दूसरा 50 रु का नोट वापिस कर सकता हूँ. वह एक Fungible Item है.

क्या है Fungible
करेंसी नोट, गोल्ड बार आदि. शायद ही कभी Fungible होता है. अधिकांश चीजें Non-Fungible होती हैं, जिसके साथ कुछ हद तक Fungibility होती है. आप ऐसे समझे कि कला, और प्राचीन वस्तुएँ पूरी तरह से Non-Fungible हैं. अब अपने 50 रू के नोट पर बॉलीवुड के बड़े सेलिब्रिटी अमिताभ बच्चन का ऑटोग्राफ है. तो अब ये यूनिक और Non-Fungible नोट माना जायेगा. यानि दूसरा नोटा नहीं हो सकता है.

NFT की तरफ आये लोग
फिनटेक उद्योग (Fintech Industry) में एनएफटी (NFT) काफी महत्वपूर्ण है. इसमें अरबो डॉलर का गेमिंग सेक्टर शामिल है साथ ही क्रिप्टोपंक (Cryptopunk), बोरेड एप यॉट क्लब भी इसमें शामिल हैं. ये आपको एक पैसिव इनकम दे सकते हैं. इनकी क्रिप्टो कम्युनिटी (Crypto Community) के अंदर एनएफटी को बढ़ावा देने में अहम भूमिका है. आपको बता दे कि भारत में 2021 के दौरान 86 से अधिक सक्रिय एनएफटी-आधारित स्टार्टअप की शुरुआत हुई थी.

बड़ी-बड़ी हस्तिया हुई दीवानी
क्रिप्टोकुरेंसी (Cryptocurrency) और एनएफटी (NFT) के बारे में आपने सुना होगा. भारत पहले से ही गेमिंग और मनोरंजन के लिए एक जबरदस्त मार्केट है. ये बाजार आपको वास्तविक लाभ देते हैं. आपको बता दे कि इन भारतीय उद्योगों ने एनएफटी को सबसे तेजी से अपना लिया हैं. इसमें फिल्म और गेमिंग जगत की बड़ी-बड़ी हस्तिया भी इसकी दीवानी हो गई है. वही दूसरी ओर भारत सरकार क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) को रेगुलेटेड करना चाह रही है.

2021 में आये 86 स्टार्टअप
आपको बता दे कि साल 2021 में 86 ऐसे स्टार्टअप सामने आये थे. जो भारत में एनएफटी की मार्केटिंग के लिए बड़ा कदम साबित हुए थे. जिसने डिजिटल संपत्ति और एनएफटी के प्रति लोगों की सोच को एक दम बदल कर रख दिया. इसमें भारतीयों को निवेश करने की जल्दी थी, जब उन्होंने अपनी NFT इस्तेमाल कैसे करें in 2023 पसंदीदा हस्तियों को पैसे कमाने की अपनी डिजिटल लाइनें बनाते देखा है. तो लोग धीरे-धीरे इसकी ओर जाने लगे. ओर अब पैसा कमा रहे है.

लेना पड़ता है टोकन
एनएफटी बाजार में कई देशो के बड़े बड़े लोग, नामी गिरामी हस्तिया कुछ विशेष टोकन लेकर काम रहे है. इसमें अभिनेता अमिताभ बच्चन, सलमान खान, कमल हासन, युवराज सिंह, रोहित शर्मा और मनीष मल्होत्रा ​​​​सहित कई हस्तिया शामिल है. उन्होंने अपने डिजिटल टोकन जारी करने की घोषणा भी की है.

50 अरब डॉलर के करीब पंहुचा मार्केट
आपको बता दे कि एक अनुमान के अनुसार 40 अरब डॉलर के बाजार मूल्य के साथ, NFT कला के सभी कार्यों के कुल बाजार मूल्य 50 अरब डॉलर के करीब पहुंच चुका हैं. कई उद्योगों के ब्रांड और प्रभावशाली व्यक्ति भारत में एनएफटी और मेटावर्स के साथ पैसा कमा रहे हैं. बॉलीवुड और खेल हस्तियों ने अपने उत्पादों की पेशकश करने के लिए अपने स्वयं के एनएफटी बाजार शुरू कर दिए हैं.

एनएफटी और कला का जोड़
एनएफटी व्यापार बाजार में एनएफटी या कला के गैर-पारंपरिक रूपों की बिक्री में पूरे रचनात्मक क्षेत्र में क्रांति लाने की क्षमता है. हालाँकि यह आने वाली पीढ़ियों के लिए सामान्य है.

NFT का सही ज्ञान होना जरूरी
डिजिटली दुनिया के सभी पहलु और डोमेन में कैसे काम करते है. यह पूरी तरह से एक नई दुनिया है. आप इसमें पैसा कैसे कमा सकते है, इसकी जानकारी ओर सही जानकारी होना भी जरूरी है.

यह भी पढ़ें :

Published at : 10 Aug 2022 06:50 PM (IST) Tags: non-fungible token India at 2047 NFT Update NFT works Fungibility Fungible item हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: India-at-2047 News in Hindi

YourStory की The Metaverse Summit 2023 में क्या है खास, आपके लिए क्यों जरूरी है यह समिट?

YourStory की The Metaverse Summit 2023 में क्या है खास, आपके लिए क्यों जरूरी है यह समिट?

The Metaverse Summit 2023 का दूसरा संस्करण 20 जनवरी, 2023 को बेंगलुरु में होगा. समिट Web2 एंटरप्राइजेज, स्टार्टअप्स, इनोवेटर्स और फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस को Web3 प्रोटोकॉल और स्टार्टअप्स से जोड़ेगा ताकि ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी को अपनाने में तेजी लाई जा सके.

YourStory और The Decrypting Story को मेटावर्स समिट 2023 (The Metaverse Summit 2023) की घोषणा करते हुए बेहद खुशी हो रही है. यह ब्लॉकचेन (blockchain) और वेब3 (web3) जैसी टेक्नोलॉजी को अपनाने में तेजी लाने के लिए भारत की सबसे बड़ी एनुअल टेक समिट का दूसरा संस्करण है.

यह समिट आगामी 20 जनवरी, 2023 (शुक्रवार) को बेंगलुरु में होगी.

YourStory अगले अरब यूजर्स के वेब3 टेक्नोलॉजी अपनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाना चाहती है.

इस विजन को साकार करने के लिए, मेटावर्स समिट 2023 वेब2 एंटरप्राइजेज, स्टार्टअप्स, इनोवेटर्स, फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस और पॉलिसी मेकर्स को वेब3 प्रोटोकॉल और स्टार्टअप्स से जोड़ेगा ताकि ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी को अपनाने में तेजी लाई जा सके.

आपके लिए क्यों जरूरी है मेटावर्स समिट?

ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी, AI (Artificial intelligence), Augmented reality (AR)/Virtual Reality, गेमिफिकेशन, हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर में तेजी से हो रही प्रगति, और बहुत कुछ यूजर्स के वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर एक-दूसरे के साथ बातचीत करने के तरीके को बदल रही है.

इसके साथ ही भारत के लिए इस बदलते दौर में NFT इस्तेमाल कैसे करें in 2023 धाक जमाने और वेब3 के जरिए मेटावर्स की इंटरनेट अर्थव्यवस्था को परिभाषित करने का यह मल्टीट्रिलियन-डॉलर का अवसर है.

वेब3 टेक्नोलॉजी ओपन-सोर्स मैकेनिज्म मुहैया करती है जिसके जरिए अरबों डॉलर के संसाधनों NFT इस्तेमाल कैसे करें in 2023 को आसानी से एकत्रित किया जा सकता है और बड़े पैमाने पर पारंपरिक उद्यमों के साथ मुकाबला किया जा सकता है.

हालांकि, वेब2 और वेब2.5 खिलाड़ियों का प्रवेश वेब3 के इस्तेमाल जैसे क्रिप्टो, NFT (non-fungible token), Decentralized finance (DeFi), Play-to-Earn, DAOs आदि को अपनाने में तेजी लाने के लिए सर्वोपरि है.

वेब2 और वेब3 दुनिया के बीच सहयोग को बढ़ावा देने के लिए, मेटावर्स समिट 2023 भारत में ब्लॉकचेन तकनीक को अपनाने को बढ़ावा देने पर ध्यान देने के साथ दोनों पक्षों के उद्यमों, स्टार्टअप्स, इनोवेटर्स और फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस को जोड़ेगी.

इस वर्ष, इस समिट में जिन सेक्टर पर फोकस रहेगा, वे इस प्रकार हैं:

  • कैसे Web2 एंटरप्राइजेज और दिग्गज कंपनियां Web3 को अपना सकती हैं
  • अगले अरब यूजर्स को Web3 पर लाना
  • क्रिप्टो, NFT, DeFi, वेब3 गेमिंग, इंफ्रा, टूलिंग आदि में इनोवेशन
  • एक निष्पक्ष, साझा और उपयोगकर्ता-स्वामित्व वाले मेटावर्स (User-Owned Metaverse) का निर्माण करना

ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी जरिए फेक न्यूज से निपटना

मोहित अगाड़ी — एक डिजिटल मार्केटर, SEO (search engine optimization) एक्सपर्ट और ब्लॉगर हैं, ने लगभग हर चीज की तथ्य-जांच (fact-check) का एक सख्त नियम बनाया. इसकी शुरूआत यह सुनिश्चित करने के साथ हुई कि उनके लेखों में कोई गलत जानकारी नहीं है.

समस्या अंततः उनके इतने करीब आ गई कि उन्होंने बड़े पैमाने पर जानकारी की तथ्य-जांच करने के लिए एक कंपनी खड़ी कर दी.

Fact Protocol, जिसे उन्होंने को-फाउंडर दामोदर कल्याण के साथ इस साल की शुरुआत में शुरू किया था, एक डिसेंट्रलाइज्ड फैक्ट-चेकिंग सिस्टम और वैरिफिकेशन लेयर बनाने के लिए ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करता है.

Fact Protocol किसी भी यूजर को एक सत्यापनकर्ता (validator) बनने का अवसर देता है, बशर्ते वे सही ढंग से तथ्यों की जांच कर सकें. इसके लिए टी (tee) के दिशानिर्देशों का पालन करना या डोमेन में अनुभव होना आवश्यक है.

Fact Protocol Co-Founders

जब कोई न्यूज़ आर्टिकल या कंटेंट शेयर करता है, तो फैक्ट-चेकर इसे वैलिडेट करने के लिए तैयार हो जाते हैं. इस प्रक्रिया में कंटेंट से संबंधित जानकारी के विश्वसनीय स्रोतों के लिए वेब (इंटरनेट) पर सर्च करना होता है.

इसके बाद फैक्ट-चेकर्स इसे वेरिफाई करने के लिए आगे बढ़ते हैं. एक बार जब यह पूरा हो जाता है, तो जानकारी को ब्लॉकचेन पर स्टोर किया जाता है, जिससे किसी को भी वेरिफाई करने के लिए पता लगाया जा सकता है.

फाउंडर्स का तर्क है कि डिसेंट्रलाइज्ड नेटवर्क के फायदे भी पावर की एकाग्रता को रोकने, सत्यापन प्रक्रिया को लोकतांत्रिक रखने, पूर्वाग्रह को खत्म करने और पूर्ण पारदर्शिता सुनिश्चित करने के लिए विस्तारित होते हैं.

इस खास एक दिवसीय समिट में दो ट्रैक होंगे - Web3 Track (मुख्य ट्रैक) और BUIDL Together Track (मास्टरक्लास और वर्कशॉप).

मेटावर्स समिट 2023 में भाग लेने के लिए अभी रजिस्टर करें और भारतीय और ग्लोबल वेब3 कम्यूनिटी के सैकड़ों फाउंडर, इन्वेस्टर, डेवलपर, इंजीनियर और कम्यूनिटी के सदस्यों से मिलें!

Nelson Mandela के ओरिजिनल अरेस्ट वॉरंट के NFT को नीलामी में मिले 1,30,000 डॉलर

मंडेला की गिरफ्तारी से जुड़ा 1961 का यह ओरिजिनल डॉक्यूमेंट इंग्लिश और अफ्रीकान्स दोनों भाषा में हाथ से लिखा गया था

Nelson Mandela के ओरिजिनल अरेस्ट वॉरंट के NFT को नीलामी में मिले 1,30,000 डॉलर

हाल के महीनों में NFT की लोकप्रियता बढ़ी है

खास बातें

  • इस नीलामी से मिलने वाली रकम एक हेरिटेज साइट को दी जाएगी
  • NFT के बायर को म्यूजियम में ओरिजिनल डॉक्यूमेंट का एक्सेस भी मिलेगा
  • NFT का कारोबार बढ़ने के साथ ही इनसे जुड़े स्कैम में भी तेजी आई है

नोबेल पुरस्कार विजेता और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला के ओरिजिनल अरेस्ट वॉरंट के नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) को नीलामी में 1,30,000 डॉलर मिले हैं. इस नीलामी से मिलने वाली रकम एक हेरिटेज साइट को दी जाएगी जो लोकतंत्र के लिए दक्षिण अफ्रीका के संघर्ष का रिकॉर्ड रखती है.

मंडेला से जुड़े NFT को बेचने वाले मार्केटप्लेस Momint के चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर Posthumus ने बताया कि यह रकम Liliesleaf म्यूजियम हेरिटेज साइट को दी जाएगी जिसे 2004 में डोनेशन के तौर पर ओरिजिनल अरेस्ट वॉरंट मिला था. उन्होंने Bloomberg को दिए इंटरव्यू में बताया कि NFT के बायर को म्यूजियम में ओरिजिनल डॉक्यूमेंट का एक्सक्लूसिव एक्सेस भी मिलेगा. उनका कहना था कि इस नीलामी से म्यूजियम साइट्स को अपना कामकाज जारी रखने में मदद मिलेगी क्योंकि महामारी के कारण पर्यटन की कमी से से इन साइट्स पर बड़ा असर पड़ा है.

Liliesleaf Farm म्यूजियम के फाउंडर Nicholas Wolpe ने कहा कि यह इनकम हासिल करने का एक अनूठा तरीका है. 1961 का यह ओरिजिनल डॉक्यूमेंट इंग्लिश और अफ्रीकान्स दोनों NFT इस्तेमाल कैसे करें in 2023 भाषा में हाथ से लिखा गया था. दक्षिण अफ्रीका के जोहनसबर्ग शहर के बाहरी इलाके में मौजूद Liliesleaf Farm का इस्तेमाल अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस के सीक्रेट हेडक्वार्टर के तौर पर 1961 से शुरू हुआ था. इसी जगह पर मंडेला और उनकी पार्टी के नेता अथॉरिटीज से छिपकर रहते थे. पुलिस ने 1963 में छापा मारकर कुछ कार्यकर्ताओं को इस जगह से गिरफ्तार किया था.

दक्षिण अफ्रीका के स्वतंत्रता सेनानी Oliver Tambo की एक छोटी गन को पिछले वर्ष NFT के तौर पर नीलाम किया गया था. इससे मिली रकम भी Liliesleaf म्यूजियम को दी गई थी. हाल के महीनों में NFT की लोकप्रियता बढ़ी है. स्पोर्ट्स क्लब, ऑटोमोबाइल कंपनियां और पॉप स्टार्स भी इस कारोबार में उतर रहे हैं. NFT में ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से यूनीक आइटम्स के टोकन्स को ऑथेंटिकेट किया जाता है जो दोबारा प्रोड्यूस किए जा सकने वाले डिजिटल एसेट्स से जुड़े होते हैं. इनमें आर्ट, म्यूजिक, इन-गेम आइटम्स और वीडियो शामिल हो सकते हैं. इनकी ऑनलाइन ट्रेडिंग की जा सकती है लेकिन इन्हें डुप्लिकेट नहीं किया जा सकता. NFT का कारोबार बढ़ने के साथ ही इनसे जुड़े स्कैम के मामलों में भी तेजी आई है. ऐसे कुछ मामलों NFT इस्तेमाल कैसे करें in 2023 में NFT खरीदने वालों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है.

बड़े Tequila ब्रांड्स की Metaverse में उतरने की योजना

Jose Cuervo ने मल्टीमीडिया से जुड़े NFT, डिजिटल एसेट मार्केटप्लेस, वर्चुअल रेस्टोरेंट और वर्चुअल डिस्टिलरीज के लिए ट्रेडमार्क के आवेदन दिए हैं

बड़े Tequila ब्रांड्स की Metaverse में उतरने की योजना

NFT में ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी से यूनीक आइटम्स के टोकन्स को ऑथेंटिकेट किया जाता है

खास बातें

  • इनमें Tequila के बड़े ब्रांड्स में से एक Jose Cuervo भी शामिल है
  • इसने हाल ही में वर्चुअल डिस्टिलरी शुरू की है
  • इसमें यूजर्स के लिए गेम्स भी हैं

मेटावर्स और नॉन-फंजिबल टोकन (NFT) में बहुत से ब्रांड्स की दिलचस्पी बढ़ रही है. इनमें Tequila के बड़े ब्रांड्स में से एक Jose Cuervo भी शामिल है. ट्रेडमार्क अटॉर्नी Mike Kondoudis ने बताया है कि Jose Cuervo ने अमेरिका के पेटेंट एंड ट्रेडमार्क ऑफिस (USPTO) के पास मल्टीमीडिया से जुड़े NFT, डिजिटल एसेट मार्केटप्लेस, वर्चुअल रेस्टोरेंट और वर्चुअल डिस्टिलरीज के लिए आवेदन दाखिल किए हैं.

Jose Cuervo ने मार्च में कहा था कि वह Ethereum ब्लॉकचेन के सपोर्ट वाले 3D वर्चुअल स्पेस डीसेंटरलैंड में इस प्रकार की पहली डिस्टिलरी शुरू करेगा. इस डिस्टिलरी की हाल ही में शुरुआत हुई है. इसमें यूजर्स के लिए ड्रिंक मिक्सिंग चैलेंज और अन्य इंटरएक्टिव गेम्स भी हैं. इस ब्रांड ने अपनी डिस्टिलरी को मेटावर्स पर लाने के लिए कई डिजाइनर्स और डिजिटल एक्सपीरिएंस एक्सपर्ट्स को साथ जोड़ा है. इसमें यूजर्स को Tequila बनाने में इस्तेमाल होने वाले इंग्रीडिएंट्स के बारे में भी जानकारी मिलेगी. लैटिन अमेरिका में सबसे पुरानी डिस्टिलरी चलाने वाले इस ब्रांड की Tequila के कुल मार्केट में लगभग 20 प्रतिशत की हिस्सेदारी है.

एक अन्य ब्रुइंग फर्म Anheuser-Busch NFT इस्तेमाल कैसे करें in 2023 ने भी लगभग तीन महीने पहले मेटावर्स से जुड़े कई आवेदन दाखिल किए थे. इसने पिछले वर्ष वर्चुअल बीयर कैन भी लॉन्च किए थे. NFT में ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के इस्तेमाल से यूनीक आइटम्स के टोकन्स को ऑथेंटिकेट किया जाता है जो दोबारा प्रोड्यूस किए जा सकने वाले डिजिटल एसेट्स से जुड़े होते हैं. इनमें आर्ट, म्यूजिक, इन-गेम आइटम्स और वीडियो शामिल हो सकते हैं. इनकी ऑनलाइन ट्रेडिंग की जा सकती है लेकिन इन्हें डुप्लिकेट नहीं किया जा सकता. इस महीने की शुरुआत में वीडियो गेम रिटेलर GameStop ने अपने NFT मार्केटप्लेस का बीटा एक्सेस शुरू किया है. इस फर्म ने हाल ही में Ethereum-बेस्ड NFT वॉलेट लॉन्च किया था. इस मार्केटप्लेस पर Ethereum मेननेट के साथ ही लेयर 2 स्केलिंग सॉल्यूशन Loopring पर चलने वाले कई आर्टवर्क प्रोजेक्ट्स मौजूद हैं. GameStop का लक्ष्य NFT गेमिंग में एक बड़ी फर्म बनने का है

इस सेगमेंट में कारोबार बढ़ने के साथ ही स्कैम के मामलों में भी तेजी आई है. ऐसे कुछ मामलों में NFT खरीदने वालों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है. अमेरिका में इस सेगमेंट से जुड़े धोखाधड़ी के कुछ बड़े मामलों का खुलासा हुआ है. इनमें कुछ आरोपियों को गिरफ्तार भी किया गया है.

रेटिंग: 4.16
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 357